Three criminal bills passed in Parliament :-अमित शाह ने बलात्कारियो पर उठाया मुद्दा और किये नए कानून पास। पढ़िए पूरी खबर।

komal

Three criminal bills passed in Parliament :-

आइये हम आप को बताते है की अमित शाह ने एक नया बिल सांसद में पास कराया है। उन्होंने कानूनों में कुछ बदलाव करने के बारे में अपना प्रस्ताव रखा है। उन्होंने संसद में कहा कि कुछ कानूनो को भारत में बदलने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि भारत में बहुत से ऐसे कानून है जिसे बदलना बहुत ही ज्यादा जरूरी है। अगर समय पर ये कानून न बनाए गए तो आने वाले समय में हमे कई परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। तीनो बिलो को लोकसभा में पास कर दिया गया है अब इसे राष्ट्रपति की मंजूरी के लिए  भेज दिया गया है। राष्ट्रपति की मंजूरी मिलते है ये बिल कानून बन जायेगे।

भारत की लोकसभा में आमिल शाह ने तीन बिल पास करवाए है जिस मे से एक बिल है लड़कियों सुरक्षा के लिए। उन्होंने इस बात का मुद्दा उठाया है की हमारे देश भारत में लड़कियों के बालत्कार की संख्या हर साल बढ़ती जा रही रही है। इस का मुख्य कारन है हमरे देश कानूनों में कमी। अगर हम मुजरिम को सही सज़ा दे तो इसे कम किया जा सकता है। हमारे देश में कानूनों से मुजरिमो को अवगत करवाना बहुत ही ज्यादा जरुरी है।

Dunki Movie 2023 हो चुकी है सिनेमा में रिलीज़, पहली ही दिन इस मूवी ने ****/- की कमाई। पढ़िए पूरी खबर

हमारे समाज  लड़कियों को बहुत सी मुसीबतो का सामना करना पड़ता है। वो अपने आप को सुरक्षित नहीं महशूस कर पाती है। इस कानून के बन जाने से लडकियो को बहुत आसानी होगी और मुजरिमो का हामरे समाज में से सफाया होगा। अमित शाह जी ने कहा की बहुत ही जल्द ये कानून भारत में लागू क्र दिए जाएगे।

Three criminal bills passed in Parliament :-अमित शाह ने बलात्कारियो पर उठाया मुद्दा और किये नए कानून पास। पढ़िए पूरी खबर।

सदन से बहार जो लोग इस कानून पर सवाल उठा रहे है अमित शाह ने उन लोगो को करारा जवाब देते हुए कहा कि इस बिल के पास होने बाद किसी की व्यक्ति को न्याय के लिए सालो साल तक का इन्जार नहीं करना पड़ेगा बल्कि उन्हें तीन साल के अंदर अंदर न्याय मिलेगा। इस कानून के पास होने के बाद भारत में से मुजरिमो ,बलात्कारियो का हमेशा के लिए सफाया होगा। अब भारत के नागरिको के मुकदमो का निपटारा  तीन साल के अंदर ही किया जायगा। अब कोई भी व्यक्ति ये नहीं कह पायेगा की हमारी अदालतों में तरीख पर तारीख दी जाती है।

अमित शाह ने तीखे स्वरों में कहा कि जो लोग कहते ह की कानून में बदलाव की क्या जरूरत है मै उन्हें बता दू कि उन को अभी तक स्वराज का मतलब नहीं पता है। इस का मतलब होता है कि स्व धर्म ,भाषा ,संस्कृति को आगे बढ़ाना। शाह ने कहा कि गांधी जी ने शाशन परिवर्तन की लड़ाई नहीं लड़ी थी  बल्कि उन्होंने स्वराज की लड़ाई लड़ी थी।

Modi Story 2023: नरेंद्र मोदी ने किया था अपना वादा पूरा, रेगिस्तान के अंदर लगवाई पाइपलाइन। पढ़ें पूरी ख़बर।

 लड़कियों का बलात्कार करने वाले अपराधियों के लिए बनाये गए है ये कानून:-

  • 1  अगर किसी अपराधी ने नाबालिग लड़की का रेप किया है तो उसे उम्रकैद या फांसी की सज़ा दी अजयेगी।
  • 2 पहले भारत में रेप के धरा 375 और 376 थी जिसे अब बदल कर 63 और 69 क्र दी गयी है।
  • 3 यदि लड़की का गैंगरेप किया गया है तो दोषी को 20 साल तक की सज़ा या फिर वो जब तक जीवित रहेगा तब तक जेल की सज़ा दी जाएगी।
  • 4 अगर कसी व्यक्ति ने मॉब लिंचिंग की है तो उसे फांसी की सज़ा दी जाएगी।

हम आप को बता दे कि बहुत ही जल्द ये कानून पास होने वाला है। इस कानून के पास होते ही हमे कई प्रकार के अपराधों से राहत मिलेगी।

Share This Article
Leave a comment